बीइंग भगीरथ ने भोजन वितरण के साथ शुरू किया निःशुल्क माॅस्क वितरण, संयोजक ने कहा माॅस्क बना रही महिलाओं को मिल रहा रोजगार

Must Read

पाक ने फिर से पुंछ में एलओसी युद्ध विराम को सरल बनाया

जम्मू, 23 सितम्बर | पाकिस्तान ने बुधवार को लगातार 5 वें दिन जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा...

भारत, चीन सीमा विवाद पर कर्मचारी राजनीतिक नेताओं की सहमति के लिए सहमत हैं

नई दिल्ली, 22 सितम्बर | भारतीय सेना ने मंगलवार को सीमा विवाद को सुलझाने के लिए मोल्दो में 14...

जन्मदिन मुबारक हो, प्रेम चोपड़ा: बॉलीवुड के प्रतिष्ठित खलनायक के 7 प्रसिद्ध संवाद जिन्होंने उन्हें एक किंवदंती बना दिया

महानायक प्रेम चोपड़ा आज 23 सितंबर को 85 वर्ष के हो गए और सिल्वर स्क्रीन पर कहर ढाने वाले...

हरिद्वार । बीइंग भगीरथ स्वयं सहायता समूह की ओर से भोजन वितरण के साथ माॅस्क तैयार कर जरूरतमंदों को वितरण किया जा रहा है। सोमवार को बीइंग भगीरथ फाउण्डेशन की ओर से माॅस्क वितरण की शुरूआत की गयी है। इससे महिलाओं को रोजगार भी मिल रहा है। बीइंग भगीरथ के संयोजक शिखर पालीवाल ने बताया कि फाउण्डेशन की ओर से गरीब मजदूर वर्ग की महिलाओं को माॅस्क तैयार करने का जिम्मा दिया गया है। महिलाओं को प्रति माॅस्क एक रूपए का भुगतान किया जा रहा है। जबकि सिलाई मशीन, कपड़ा, धागा व अन्य सामान फाउण्डेशन की ओर से उपलब्ध कराया जा रहा है। महिलाओं द्वारा सूती कपड़े से निर्मित माॅस्क को टीम के सदस्य पंचपुरी के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे लोगों को निःशुल्क दे रहे हैं, जो पैसे के अभाव में माॅस्क खरीद नहीं पा रहे हैं। कोरोना वायरस से बचाव के लिए माॅस्क बेहद जरूरी है। लेकिन लाॅकडाउन होने के चलते रोजगार नहीं कर पा रहे मजदूर वर्ग के लोग माॅस्क खरीदने में असमर्थ हैं। ऐसे में बीइंग भगीरथ ने कोरोना के खिलाफ संघर्ष में अहम साबित हो रहे माॅस्क सबको उपलब्ध कराने का बीड़ा उठाया है। इससे कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में मदद तो मिलेगी ही साथ ही महिलाओं को कुछ रोजगार भी मिल सकेगा। शिखर पालीवाल ने बताया कि टीम के सदस्य जगह-जगह जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट भी लगातार वितरित करते चले आ रहे हैं। अलग अलग टीमें अपने अपने क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग व माॅस्क की अनिवार्यता के प्रति लोगों को जागरूक भी कर रही हैं। विकास चैहान व आशु चैहान ने कहा कि सरकार द्वारा भी लगातार सोशल डिस्टेंसिंग व माॅस्क की अनिवार्यता को लेकर गाइडलाईन भी जारी की जा रही है। पुलिस प्रशासन भी लगातार घरों से बाहर जरूरी आवश्यक कार्य पर निकलने वाले लोगों को माॅस्क लगाने की अनिवार्यता पर जागरूक रहे हैं। हमारा प्रयास है कि गरीब महिलाओं को कपड़े के माॅस्क बनाने से रोजगार तो मिलेगा ही साथ ही उनके परिवारों की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी। कोरोना को समाप्त करने में सभी की सहभागिता जरूरी है। जरूरतमंदों को भोजन व माॅस्क वितरण करने में मीडिया प्रभारी शिवम अरोड़ा, अतुल चैहान, मधु भाटिया, सौरभ चैहान, हितेश चैहान, तन्मय शर्मा, रेणु गोपाल त्यागी, मोहित विश्नोई, ओम पेंटर, राहुल गुप्ता, अंकित शर्मा, शिवम चैहान, हितेश चैहान, रजनीश चैहान, ब्रजेश चैहान, शुभम चैहान आदि टीम के सदस्य निरंतर सहयोग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Latest News

पाक ने फिर से पुंछ में एलओसी युद्ध विराम को सरल बनाया

जम्मू, 23 सितम्बर | पाकिस्तान ने बुधवार को लगातार 5 वें दिन जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा...

भारत, चीन सीमा विवाद पर कर्मचारी राजनीतिक नेताओं की सहमति के लिए सहमत हैं

नई दिल्ली, 22 सितम्बर | भारतीय सेना ने मंगलवार को सीमा विवाद को सुलझाने के लिए मोल्दो में 14 घंटे की कूटनीतिक-सैन्य वार्ता में...

जन्मदिन मुबारक हो, प्रेम चोपड़ा: बॉलीवुड के प्रतिष्ठित खलनायक के 7 प्रसिद्ध संवाद जिन्होंने उन्हें एक किंवदंती बना दिया

महानायक प्रेम चोपड़ा आज 23 सितंबर को 85 वर्ष के हो गए और सिल्वर स्क्रीन पर कहर ढाने वाले उनके कुछ पसंदीदा संवादों को...

गंगूबाई काठियावाड़ी: आलिया भट्ट को अक्टूबर से एक छोटे से सेट पर शूट करना?

संजय लीला भंसाली की गंगूबाई काठियावाड़ी सिर्फ उन फिल्मों में से एक है जिसका सभी को इंतजार है। फिल्म सिटी में एक विशाल सेट...

गुरुग्राम सदर बाजार को ‘वाहन मुक्त क्षेत्र’ बनाया जाए

गुरुग्राम, 23 सितंबर | नगर निगम, गुरुग्राम (MCG) और गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (GMDA) सदर बाज़ार बनाने की रणनीति पर काम कर रहे हैं,...

More Articles Like This