चार धाम के यात्रियों को झटका, अब यहां रील्स या वीडियो नहीं बना पाएंगे, सरकार ने लगाया बैन

Must Read

Heavy rain continues in Kerala, red alert issued for Ernakulam, Kottayam districts

The India Meteorological Department (IMD) has issued a red alert in the Ernakulam and Kottayam districts of Kerala...

अनोखा प्रयोग : बाघ के हमलों से बचने के लिए मुखौटा लगाएंगी महिलाएं…क्या कम होगा संघर्ष?

हल्द्वानी. उत्तराखंड के तराई के जंगलों में जानवरों और आम इंसान के बीच संघर्ष लगातार बढ़ता जा रहा...

Uttarakhand Forest Fire: Tehri के जंगल में फिर से लगी आग, वन विभाग और फायर विभाग की टीम मौजूद

May 28, 2024, 20:39 ISTNews18 UP UttarakhandUttarakhand Forest Fire: Tehri के जंगल में फिर से लगी आग, वन...


देहरादून. पुराने वक्त में चारधाम यात्रा लोगों के लिए आस्था का विषय थी, लेकिन आज यहां आस्था के साथ कुछ लोग एडवेंचर के लिए भी पहुंचने लगे हैं. इस कारण बुजुर्गों के साथ यहां बड़ी संख्या में युवा-बच्चे भी आ रहे हैं. चार धाम यात्रा में यहां भीड़भाड़ का माहौल है. दर्शन के लिए तो भक्तों का तांता लगा ही है, ब्लॉगर्स और वीडियो क्रिएटर्स का भी जमावड़ा है.

ऐसे में श्रद्धालुओं को असुविधा हो रही है. अब एडवेंचर या शौक पूरा करने के लिए वीडियोग्राफी करने वालों पर प्रशासन सख्ती बरतने जा रहा है. दरअसल, गुरुवार को शासन की ओर से एक नया आदेश जारी किया गया है, जिसमें साफतौर मंदिर परिसर के 50 मीटर दायरे में रील्स बनाने पर पूरी तरह बैन लगाया गया है.

शासनादेश में ये लिखा गया
उत्तराखंड शासन की इस एसओपी में कहा गया कि प्रदेश में चार धाम यात्रा संचालित की जा रही है, जिसमें बड़ी तादाद में श्रद्धालु दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं. इसके लिए शासन- प्रशासन व्यवस्था बनाने का काम कर रहा है. लेकिन, कुछ लोग जो वीडियो शूट या रील्स बना रहे हैं, उससे श्रद्धालुओं को परेशानी हो रही है. लोग उन्हें देखने के लिए भीड़ लगाकर एक ही जगह एकत्रित हो रहे हैं, जिससे यात्रियों को दर्शन-पूजन में दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है. श्रद्धालुओं को असुविधा न हो, इसलिए चार धाम यात्रा के मंदिरों के परिसर के 50 मीटर दायरे में रील्स या वीडियो शूट पर पूरी तरह से बैन लगाया गया है.

वीआईपी दर्शन पर भी प्रतिबंध
उत्तराखंड राज्य में इन दिनों चार धाम यात्रा के लिए देश-विदेश से लोग पहुंच रहे हैं, जिससे भीड़ काफी बढ़ गई है. सरकार के लिए इस भीड़ को नियंत्रित करना और व्यवस्था को बनाए रखना चुनौतीपूर्ण है. व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के लिए 31 मई तक वीआईपी दर्शन पर भी सरकार ने रोक लगाई है. मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर कहा कि आगामी 31 मई तक वीआईपी दर्शन की व्यवस्था होना मुश्किल है, इसलिए इस पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है. बता दें कि चारधाम के लिए 27 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पंजीकरण करवा लिया है.

Tags: Char Dham Yatra, Dehradun news, Local18, Uttarakhand Government



Source link

Leave a Reply

Latest News

Heavy rain continues in Kerala, red alert issued for Ernakulam, Kottayam districts

The India Meteorological Department (IMD) has issued a red alert in the Ernakulam and Kottayam districts of Kerala...

अनोखा प्रयोग : बाघ के हमलों से बचने के लिए मुखौटा लगाएंगी महिलाएं…क्या कम होगा संघर्ष?

हल्द्वानी. उत्तराखंड के तराई के जंगलों में जानवरों और आम इंसान के बीच संघर्ष लगातार बढ़ता जा रहा है. आबादी की तरफ बढ़...

Uttarakhand Forest Fire: Tehri के जंगल में फिर से लगी आग, वन विभाग और फायर विभाग की टीम मौजूद

May 28, 2024, 20:39 ISTNews18 UP UttarakhandUttarakhand Forest Fire: Tehri के जंगल में फिर से लगी आग, वन विभाग और फायर विभाग की...

Elon Musk dominates space launch. Rivals are calling foul.

Elon Musk aggressively elbowed his way into the space launch business over the past two decades, combining engineering genius and an entrepreneurial drive...

रेल यात्रियों को बड़ी राहत, यूपी-दिल्ली,बिहार रूटों पर सही समय पर चलीं ट्रेनें-कुछ ट्रेन लेट; पढ़ें पूरी लिस्ट 

17 अप्रैल से 20 मई तक संयुक्त किसान मोर्चा के आंदोलन के दौरान रोजाना कई ट्रेनें रद हो रहीं थीं। वहीं कुछ को...

More Articles Like This