Uttarakhand Weather: अभी और सताएगी कड़ाके की सर्दी, मैदानी इलाकों में आज शीत लहर और घने कोहरे के आसार

Must Read

उत्तराखंड भाजपा में रार शुरू: ‘पार्टी अध्यक्ष ने मुझे हराने की साजिश रची’, विधायक संजय गुप्ता का वीडियो वायरल

{"_id":"620b1bbee272e114051b8567","slug":"laksar-bjp-mla-sanjay-gupta-says-uttarakhand-bjp-chief-madan-kaushik-has-worked-against-several-bjp-candidates-to-ensure-their-defeat-in-this-election","type":"feature-story","status":"publish","title_hn":"उत्तराखंड भाजपा में रार शुरू: 'पार्टी अध्यक्ष ने मुझे हराने की साजिश रची', विधायक संजय गुप्ता का वीडियो...

राहुल-प्रियंका की प्रतिष्ठा से जुड़ीं उत्तराखंड की ये सात विधानसभा सीट 

विधानसभा चुनाव के परिणाम कांग्रेस के स्टार प्रचारक पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी...

Weather Update:दो जिलों को छोड़ साफ रहेगा मौसम,जानें मौसम पूर्वानुमान 

उत्तराखंड में मतदान के दिन सोमवार को नैनीताल और पिथौरागढ़ जिले को छोड़ बाकी जिलों में मौसम साफ...


सार

हरिद्वार में 22 जनवरी को 30 मिलीमीटर और देहरादून एवं पौड़ी गढ़वाल में 21 जनवरी को 5 मिलीमीटर एवं 22 जनवरी को क्रमश: 35 व 20 मिलीमीटर बरसात होने का पूर्वानुमान है।

हल्द्वानी में सुबह छाया रहा कोहरा
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम का मिजाज एक बार फिर करवट ले रहा है। इसके चलते राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में 21 से 23 जनवरी तक बारिश के साथ बर्फबारी के आसार हैं। मौसम में आए बदलाव के चलते मंगलवार को चमोली समेत कई पर्वतीय इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी हुई। वहीं बुधवार को सुबह देहरादून में दस बजे बाद सूर्य देव के दर्शन हुए। लेकिन बाद में मौसम फिर खराब हो गया। इसी प्रकार मैदानी इलाकों में कोहरा और बादल छाए रहे। चमोली जिले सहित रुद्रप्रयाग के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी भी हुई है। राज्यभर में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है।

पूरे राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना
मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी बिक्रम सिंह के मुताबिक 21 जनवरी से एक बार फिर पूरे राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना है। इसके चलते 21 से लेकर 23 जनवरी तक मैदानी क्षेत्रों में राजधानी दून समेत तमाम जिलों में झमाझम बारिश हो सकती है। वहीं कुमाऊं और गढ़वाल के पर्वतीय इलाकों में बारिश के साथ जोरदार बर्फबारी के आसार हैं। पश्चिमी विक्षोभ 21 से लेकर 23 जनवरी शाम तक सक्रिय रहेगा। फिलहाल राज्य के पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी और बारिश स्थानीय हवाओं के दबाव के चलते हो रही है। 

अगले 24 घंटे में उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग चमोली पिथौरागढ़ जैसे जिलों में बारिश के साथ ही तीन हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में एक बार फिर बर्फबारी होने की पूरी संभावना है। राजधानी दून व आसपास के इलाकों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। इससे जबरदस्त ठंड रहेगी। वहीं मंगलवार को राजधानी दून व आसपास के इलाकों में कई दिनों के बाद पूरे दिन धूप निकली रही। धूप निकलने से लोगों ने ठंड से राहत की सांस ली।

बागेश्वर में लगे भूकंप के झटके
बागेश्वर जिले में मंगलवार सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल ने बताया कि सुबह छह बजकर 17 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 2.5 मापी गई है। भूकंप से किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। 

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार हरिद्वार, देहरादून और पौड़ी गढ़वाल जनपद में 21 व 22 जनवरी को हल्की से मध्यम बरसात होने की संभावना है।

आईआईटी रुड़की के जल संसाधन विकास एवं प्रबंधन विभाग में संचालित ग्रामीण कृषि मौसम सेवा परियोजना के नोडल अधिकारी प्रो. आशीष पांडेय ने बताया कि हरिद्वार में 22 जनवरी को 30 मिलीमीटर और देहरादून एवं पौड़ी गढ़वाल में 21 जनवरी को 5 मिलीमीटर एवं 22 जनवरी को क्रमश: 35 व 20 मिलीमीटर बरसात होने का पूर्वानुमान है। वहीं 19 जनवरी को हरिद्वार के मैदानी भागों में कुछ स्थानों पर घना कोहरे और शीत लहर चल सकती है।

वहीं बहादराबाद, भगवानपुर, खानपुर, लक्सर, नारसन और रुड़की ब्लॉक में भगवानपुर ब्लॉक में 21 जनवरी को बूंदाबांदी हो सकती है। 22 जनवरी को बहादराबाद ब्लॉक में 30 मिलीमीटर, भगवानपुर और खानपुर ब्लॉक में 40 मिलीमीटर, लक्सर ब्लॉक में 42 मिलीमीटर, नारसन ब्लॉक में 50 मिलीमीटर व रुड़की ब्लॉक में 43 मिलीमीटर बरसात का पूर्वानुमान है। पूर्वानुमान के आधार पर रुड़की, नारसन और खानपुर ब्लॉक में 22 जनवरी को 50 से 75 प्रतिशत तक बरसात होने की संभावना है जबकि बहादराबाद, भगवानपुर, लक्सर ब्लॉक में बरसात होने की संभावना 25 से 50 प्रतिशत तक है। 

परियोजना के तकनीकी अधिकारी डॉ. अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि मौसम विभाग द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुसार कोल्ड डे की स्थिति की घोषणा तब की जाती है जब न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से कम हो और अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 4.4 डिग्री सेल्सियस कम हो।

इसके अलावा जब मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस या उससे कम हो जाता है तो शीतलहर के पूर्वानुमान की सूचना दी जाती है। आगामी मौसम पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए डॉ. श्रीवास्तव ने किसान भाइयों को सलाह दी है कि किसान भाई गेहूं, गन्ना, सरसों, मटर, आलू और चारा फसलों की सिंचाई न करें। 23 जनवरी तक सब्जियों व अन्य फसलों पर कीटनाशकों व उर्वरकों का प्रयोग करने से बचें। पशुओं का भी ध्यान रखें। 

विस्तार

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम का मिजाज एक बार फिर करवट ले रहा है। इसके चलते राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में 21 से 23 जनवरी तक बारिश के साथ बर्फबारी के आसार हैं। मौसम में आए बदलाव के चलते मंगलवार को चमोली समेत कई पर्वतीय इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी हुई। वहीं बुधवार को सुबह देहरादून में दस बजे बाद सूर्य देव के दर्शन हुए। लेकिन बाद में मौसम फिर खराब हो गया। इसी प्रकार मैदानी इलाकों में कोहरा और बादल छाए रहे। चमोली जिले सहित रुद्रप्रयाग के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी भी हुई है। राज्यभर में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है।

पूरे राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी बिक्रम सिंह के मुताबिक 21 जनवरी से एक बार फिर पूरे राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना है। इसके चलते 21 से लेकर 23 जनवरी तक मैदानी क्षेत्रों में राजधानी दून समेत तमाम जिलों में झमाझम बारिश हो सकती है। वहीं कुमाऊं और गढ़वाल के पर्वतीय इलाकों में बारिश के साथ जोरदार बर्फबारी के आसार हैं। पश्चिमी विक्षोभ 21 से लेकर 23 जनवरी शाम तक सक्रिय रहेगा। फिलहाल राज्य के पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी और बारिश स्थानीय हवाओं के दबाव के चलते हो रही है। 

अगले 24 घंटे में उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग चमोली पिथौरागढ़ जैसे जिलों में बारिश के साथ ही तीन हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में एक बार फिर बर्फबारी होने की पूरी संभावना है। राजधानी दून व आसपास के इलाकों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। इससे जबरदस्त ठंड रहेगी। वहीं मंगलवार को राजधानी दून व आसपास के इलाकों में कई दिनों के बाद पूरे दिन धूप निकली रही। धूप निकलने से लोगों ने ठंड से राहत की सांस ली।

बागेश्वर में लगे भूकंप के झटके

बागेश्वर जिले में मंगलवार सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल ने बताया कि सुबह छह बजकर 17 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 2.5 मापी गई है। भूकंप से किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। 



Source link

Leave a Reply

Latest News

उत्तराखंड भाजपा में रार शुरू: ‘पार्टी अध्यक्ष ने मुझे हराने की साजिश रची’, विधायक संजय गुप्ता का वीडियो वायरल

{"_id":"620b1bbee272e114051b8567","slug":"laksar-bjp-mla-sanjay-gupta-says-uttarakhand-bjp-chief-madan-kaushik-has-worked-against-several-bjp-candidates-to-ensure-their-defeat-in-this-election","type":"feature-story","status":"publish","title_hn":"उत्तराखंड भाजपा में रार शुरू: 'पार्टी अध्यक्ष ने मुझे हराने की साजिश रची', विधायक संजय गुप्ता का वीडियो...

राहुल-प्रियंका की प्रतिष्ठा से जुड़ीं उत्तराखंड की ये सात विधानसभा सीट 

विधानसभा चुनाव के परिणाम कांग्रेस के स्टार प्रचारक पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की प्रतिष्ठा से भी...

Weather Update:दो जिलों को छोड़ साफ रहेगा मौसम,जानें मौसम पूर्वानुमान 

उत्तराखंड में मतदान के दिन सोमवार को नैनीताल और पिथौरागढ़ जिले को छोड़ बाकी जिलों में मौसम साफ रहेगा। इन दोनों जिलों में...

अलर्ट रहे अधिकारी, दौड़ती रही पुलिस की टीमें

ख़बर सुनें ख़बर सुनें मतदान के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस चौकस दिखी। शहर से गांव तक पुलिस की टीमें...

AAP नेता के आरोप,उत्तराखंड में वोट के लिए पैसे बंटवा रहे हैं सीएम पुष्कर सिंह धामी

विधानसभा चुनाव 2022 के लिए मतदान 14 फरवरी से ठीक एक दिन पहले अब एक नया विवाद सामने आ गया है। आम आदमी...

More Articles Like This