रुड़की में कोरोना से कॉलेज संचालक और एक बुजुर्ग की मौत

Must Read

आपदा में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति के लिए भंडारा

वर्ष 2013 में केदारनाथ में आई आपदा एवं वर्तमान कोरोना महामारी में मृतकों आत्माओं की शांति हेतु दुर्गा...

कोरोना संक्रमण कम होते ही विकास कार्यो ने पकड़ी गति

निर्माण विभाग ने मालवीय चौक से गणेशपुर होते हुए रेलवे स्टेशन को जाने वाली सड़क का निर्माण कार्य...

सिविल अस्पताल में खुलेगी नवजात शिशुओं के इलाज की यूनिट

ख़बर सुनें ख़बर सुनें रुड़की। सिविल अस्पताल में नवजात शिशुओं के इलाज के लिए स्पेशल न्यूबोर्न केयर यूनिट...


ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

रुड़की में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने के साथ ही लोगों की जिंदगी लील रहा है। रुड़की में कोरोना से एक कॉलेज के संचालक और एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। कॉलेज संचालक की मौत से लोगों में दहशत है। वहीं, मौत से परिजनों में कोहराम मचा है। उधर, रुड़की, भगवानपुर और नारसन में 239 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। सभी लोगों को आईसोलेट किया गया है।
रुड़की और देहात में कोरोना मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ी है तो लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। रविवार को कोरोना ने शहर में दो लोगों की जिंदगी लील ली, जिससे शहर में और दहशत फैल गई। रविवार को रुड़की निवासी 38 वर्षीय कॉलेज संचालक की मौत हो गई। जांच रिपोर्ट आने के बाद सुबह उनकी तबीयत अधिक खराब हो गई। वह अपनी गाड़ी से रुड़की के एक निजी अस्पताल में पहुंचे, लेकिन यहां पर बेड नहीं मिला। इसके बाद वह भगवानपुर के एक अस्पताल में पहुंचे, यहां भी उन्हें भर्ती नहीं किया गया। सही समय पर उपचार न मिलने पर उनकी मौत हो गई। वहीं, रामनगर निवासी एक बुजुर्ग महिला की भी कोरोना से मौत हो गई। जबकि रविवार को रुड़की में 202, नारसन में 13 और भगवानपुर में 14 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। सीएमएस डॉ. संजय कंसल ने बताया कि लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। साथ ही गाइडलाइन का पालन करें।
जांच रिपोर्ट देरी से मिलने पर हंगामा
रुड़की। कोरोना जांच रिपोर्ट देरी से मिलने पर लोगों ने लैब के बाहर हंगामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामला शांत किया। गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में निजी लैब पर कोरोना की जांच की जा रही है। पिछले चार-पांच दिन पहले कुछ लोगों ने लैब पर कोरोना जांच कराई थी। लोग रोजाना अपनी कोरोना रिपोर्ट लेने पहुंच रहे हैं, लेकिन रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है। इससे नाराज लोगों ने रविवार को लैब के बाहर हंगामा कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। लैब संचालक को रिपोर्ट जल्द देने के निर्देश दिए।
कांस्टेबल निकला पॉजिटिव
झबरेड़ा। इकबालपुर पुलिस चौकी पर तैनात एक कांस्टेबल कोरोना पॉजिटिव निकला है। इसके बाद पुलिस चौकी को सैनिटाइज करवाया गया। इकबालपुर पुलिस चौकी में स्टाफ का कोरोना टेस्ट किया गया था। रविवार को एक कांस्टेबल की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। इकबालपुर पुलिस चौकी प्रभारी मोहन कठैत ने बताया कि कांस्टेबल के पॉजिटिव निकलने पर उसे आईसोलेट कर दिया गया है। साथ ही अन्य स्टाफ को मास्क और सैनिटाइज का प्रयोग करने के निर्देश दिए गए हैं।

रुड़की में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने के साथ ही लोगों की जिंदगी लील रहा है। रुड़की में कोरोना से एक कॉलेज के संचालक और एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। कॉलेज संचालक की मौत से लोगों में दहशत है। वहीं, मौत से परिजनों में कोहराम मचा है। उधर, रुड़की, भगवानपुर और नारसन में 239 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। सभी लोगों को आईसोलेट किया गया है।

रुड़की और देहात में कोरोना मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ी है तो लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। रविवार को कोरोना ने शहर में दो लोगों की जिंदगी लील ली, जिससे शहर में और दहशत फैल गई। रविवार को रुड़की निवासी 38 वर्षीय कॉलेज संचालक की मौत हो गई। जांच रिपोर्ट आने के बाद सुबह उनकी तबीयत अधिक खराब हो गई। वह अपनी गाड़ी से रुड़की के एक निजी अस्पताल में पहुंचे, लेकिन यहां पर बेड नहीं मिला। इसके बाद वह भगवानपुर के एक अस्पताल में पहुंचे, यहां भी उन्हें भर्ती नहीं किया गया। सही समय पर उपचार न मिलने पर उनकी मौत हो गई। वहीं, रामनगर निवासी एक बुजुर्ग महिला की भी कोरोना से मौत हो गई। जबकि रविवार को रुड़की में 202, नारसन में 13 और भगवानपुर में 14 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। सीएमएस डॉ. संजय कंसल ने बताया कि लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। साथ ही गाइडलाइन का पालन करें।

जांच रिपोर्ट देरी से मिलने पर हंगामा

रुड़की। कोरोना जांच रिपोर्ट देरी से मिलने पर लोगों ने लैब के बाहर हंगामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामला शांत किया। गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में निजी लैब पर कोरोना की जांच की जा रही है। पिछले चार-पांच दिन पहले कुछ लोगों ने लैब पर कोरोना जांच कराई थी। लोग रोजाना अपनी कोरोना रिपोर्ट लेने पहुंच रहे हैं, लेकिन रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है। इससे नाराज लोगों ने रविवार को लैब के बाहर हंगामा कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। लैब संचालक को रिपोर्ट जल्द देने के निर्देश दिए।

कांस्टेबल निकला पॉजिटिव

झबरेड़ा। इकबालपुर पुलिस चौकी पर तैनात एक कांस्टेबल कोरोना पॉजिटिव निकला है। इसके बाद पुलिस चौकी को सैनिटाइज करवाया गया। इकबालपुर पुलिस चौकी में स्टाफ का कोरोना टेस्ट किया गया था। रविवार को एक कांस्टेबल की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। इकबालपुर पुलिस चौकी प्रभारी मोहन कठैत ने बताया कि कांस्टेबल के पॉजिटिव निकलने पर उसे आईसोलेट कर दिया गया है। साथ ही अन्य स्टाफ को मास्क और सैनिटाइज का प्रयोग करने के निर्देश दिए गए हैं।



Source link

Leave a Reply

Latest News

आपदा में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति के लिए भंडारा

वर्ष 2013 में केदारनाथ में आई आपदा एवं वर्तमान कोरोना महामारी में मृतकों आत्माओं की शांति हेतु दुर्गा...

कोरोना संक्रमण कम होते ही विकास कार्यो ने पकड़ी गति

निर्माण विभाग ने मालवीय चौक से गणेशपुर होते हुए रेलवे स्टेशन को जाने वाली सड़क का निर्माण कार्य शुरू कर... Source link

सिविल अस्पताल में खुलेगी नवजात शिशुओं के इलाज की यूनिट

ख़बर सुनें ख़बर सुनें रुड़की। सिविल अस्पताल में नवजात शिशुओं के इलाज के लिए स्पेशल न्यूबोर्न केयर यूनिट खोली जाएगी। इसके लिए भवन...

यूरिया न मिलने पर बहादरपुर में किसानों का धरना

पूरे जिले में इस समय यूरिया खाद को लेकर जबरदस्त मारामारी मची हुई है। रविवार शाम को इफको से रैक आने पर सभी... Source...

हज यात्रा 2021: हज यात्रियों को लगातार दूसरे साल लगा झटका, यात्रा हुई रद्द

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पिरान कलियर (रुड़की) Published by: अलका त्यागी Updated Mon, 14 Jun 2021 11:00 PM IST सार पिछले साल कोरोना के चलते...

More Articles Like This