चुनाव जीते, शपथ ली, फिर भी साढ़े चार साल से कुर्सी पर नहीं बैठे इस शहर के मेयर, क्या है वजह?

Must Read



Uttarakhand News: त्रेता युग में भरत के शासन चलाने की कहानी तो आपने सुनी होगी। लेकिन, हम जो कहानी बताने जा रहे हैं वह 21वीं सदी की है जहां गद्दी पर खड़ाऊ की जगह संकल्प पत्र विराजमान है।



Source link

Leave a Reply

Latest News

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ की अपराधियों को चेतावनी, कानून से जो करेगा खिलवाड़ उसका ‘राम-नाम सत्य’

सीएम योगी ने कहा कि आज देश में यदि कहीं पटाखा भी जोर से फूट जाए तो सबसे...

गोविंद बल्लभ पंत- एनडी तिवारी के नाम से कांग्रेस के वोट पर सेंध, विपक्ष पर बरसे यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ

ऐप पर पढ़ेंयूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हल्द्वानी रैली के माध्यम से सिख वोटरों को साधने के साथ ही पंडित गोविंद बल्लभ पंत,...

दिल्ली-UP के लखनऊ और हावड़ा जाने वाली ट्रेनें पैक, सीटों की वेटिंग 100 के पार 

कई ट्रेनों में वेटिंग 100 से लेकर 200 के पार हो चुकी हैं। गर्मियों की छुट्टियों के कारण काठगोदाम से दिल्ली, लखनऊ के रूट...

More Articles Like This