हाथी की सवारी को तैयार कुछ कांग्रेस नेता, कांग्रेस में टिकट के लिए भागदौड़ करने के साथ ही बसपा नेताओं से भी जारी रखे हुए हैं बातचीत

रुड़की । कांग्रेस में मेयर टिकट को लेकर एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति है। यानी कि पार्टी के सिंबल के लिए दो दर्जन से अधिक नेता भागदौड़ कर रहे हैं। इनमें से कुछ नेता ऐसे हैं जो इस बार चुनाव लड़े बिना नहीं सकते। लिहाजा उन्होंने अभी से विकल्प के तौर पर दूसरी पार्टियों से बातचीत शुरू कर दी है। कांग्रेस के ऐसे नेता चार है। जबकि कुछ लोगों द्वारा कांग्रेस के पांचवे नेता को बहुजन समाज पार्टी के सिंबल पर जीत के समीकरण समझाने की कोशिश हो रही है। क्योंकि कांग्रेस हाईकमान के रुख से लग रहा है कि मेयर का टिकट तीन दावेदारों के बीच ही हैं। पार्टी के अधिकतर स्थानीय नेता भी इन तीन दावेदारों को चुनाव की दृष्टि से काफी मजबूत मानते भी हैं। जिससे साफ हो जाता है कि कॉन्ग्रेस का मेयर का टिकट इन तीन दावेदारों में से ही किसी एक को मिलेगा यानी कि अन्य सभी दावेदारों को निराशा हाथ लगेगी। अब यदि अन्य दावेदारों को चुनाव लड़ना है तो उन्हें या तो दूसरी पार्टियों में टिकट के लिए जुगाड़ लगाना होगा या फिर बतौर निर्दलीय तैयारी करनी होगी। स्पष्ट है कि भारतीय जनता पार्टी में किसी दूसरी पार्टी के नेता के नाम पर टिकट के लिए विचार होना कतई संभव नहीं। ऐसे में बहुजन समाज पार्टी ही बचती है जिसमें जाकर कांग्रेस के यह नेता मेयर का टिकट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि बहुजन समाज पार्टी में भी अब टिकट के लिए दावेदारों की संख्या बढ़ती जा रही है ।क्योंकि भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस से वंचित सभी नेता जो बहुजन समाज पार्टी में जाकर टिकट के कतार में लग रहे हैं। बहुजन समाज पार्टी के नेताओं ने माना है कि कांग्रेस के कई नेता पिछले सप्ताहभर से बहुजन समाज पार्टी के सिंबल के संबंध में विभिन्न स्तरों पर बातचीत जारी रखे हैं। इसमें दो पंजाबी, एक वैश्य,एक सैनी और एक ब्राह्मण दावेदार भी है जो कि अपनी पार्टी से टिकट न मिलने की दशा में बहुजन समाज पार्टी के सिंबल पर चुनाव लड़ना चाहते हैं। कांग्रेस का एक गुर्जर नेता भी बहुजन समाज पार्टी मेयर टिकट प्राप्त करने की कोशिश में है। दो मुस्लिम नेता पिछले 1 महीने से बहुजन समाज पार्टी के नेताओं से टिकट के लिए जुगाड़ बैठा रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि इन दोनों मुस्लिम नेताओं में से किसी एक को बहुजन समाज पार्टी का सिंबल मिल भी सकता है। क्योंकि यह दोनों नेता नगर निगम के चुनाव की दृष्टि से अन्य बिरादरी के नेताओं से काफी मजबूत स्थिति में माने जा रहे हैं। यानी कि अगले दिनों में मेयर और पार्षद टिकट को लेकर नगर निगम की सियासत में काफी उथल-पुथल होने जा रही है। अलबत्ता बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शीशपाल सिंह ने बताया कि मजबूत दावेदार पर ही दांव लगाया जाएगा। जल्द ही बैठक कर रुड़की नगर निगम के चुनाव को लेकर विचार मंथन किया जाएगा। मेयर और पार्षद के प्रत्याशियों के नामों पर चर्चा होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *