शहर के नालों की सफाई सही ढंग से न होने पर भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री ने मुख्यमंत्री और शहरी विकास मंत्री से की शिकायत, कहा पहली बारिश में ही उत्पन्न होने लगी है जलभराव की समस्या

 

रुड़की ।      उत्तराखंड सरकार ने बरसात से पूर्व रुड़की नगर निगम को जलभराव से रोकथाम के लिए तथा नालों की सफाई व वर्षा के पानी की निकासी हेतु 67 लाख रूपये का बजट आवंटित किया है,परन्तु सरकार द्वारा सहायता के बावजूद भी रुड़की नगर निगम द्वारा जलभराव से निजात के लिए कोई ठोस उपाय समय पर नहीं किए गए हैं।उक्त् शिकायत यहाँ की जनता के आक्रोश को देखते हुए भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री गौरव गोयल ने मुख्यमंत्री एवं शहरी विकास मंत्री को प्रेषित अपनी एक शिकायत पत्र में व्यक्त किए हैं।गोयल ने कहा कि प्रदेश सरकार बरसात से निपटने के लिए पूरे प्रदेश में हर संभव प्रयास कर रही है तथा समय से पूर्व आर्थिक सहायता भी प्रदान कर रही है,परन्तुु बड़े दुख का विषय है कि रुड़की नगर निगम द्वारा वर्षा से पूर्व चिन्हित किए गए नालों की सफाई पर उदासीन रवैय्या अपनाये हुए है।उन्होंने कहा कि नगर की जनता ने भी इस प्रकार की शिकायतें नगर निगम से की है,परन्तुु नगर निगम इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है,जिससे सरकार की बदनामी हो रही है।गोयल ने कहा कि सरकार को बदनाम करने का षड्यंत्र नगर निगम द्वारा रचा जा रहा है।इसके खिलाफ सरकार से शिकायत भी की गई है और हो सका तो जनांदोलन भी किया जाएगा।प्रदेश सरकार नगर व शहरों के विकास के लिए पूरी तरह गंभीर होकर कार्य कर रही है।उन्होंने कहा कि रुड़की नगर निगम को चाहिए कि वह पूरे नगर निगम क्षेत्र में जलभराव की समस्या को गंभीरतापूर्वक हल करें।नगर निगम के आंखें मूंदें बैठे होने से भाजपा कार्यकर्ताओं तथा जनता में भारी रोष व्याप्त है। नगर निगम प्रदेश सरकार से विकास कार्यों के लिए दिए गए बजट का बंदरबांट कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि काँवड़ यात्रा शुरू हो चुकी है और इस संबंध में नगर निगम के अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है कि जिन मार्गों से काँवड़ यात्रा नगर से गुजरती है, उनपर जलभराव की समस्या भी रहती है, इसलिए समय रहते काँवड़ यात्रा के मार्गों पर जलभराव एवं सफाई के विशेष उपाय किए जाएं,ताकि हमारे काँवड़ भाइयों को कोई असुविधा ना हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *