मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प0 गोविन्द वल्लभ पंत की जयंती पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए, कहा हिन्दी को राजभाषा के रूप में प्रतिष्ठित कराने में पंत जी की महत्वपूर्ण भूमिका रही

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प0 गोविन्द वल्लभ पंत जी की 132वीं जयन्ती के अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा भारत रत्न प0 गोविन्द वल्लभ पंत जी प्रसिद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, कुशल राजनेता व विधिवेता थे। हिन्दी को राजभाषा के रूप में प्रतिष्ठित कराने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। भारत रत्न पं.गोविन्द बल्लभ पंत की जयंती की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में उन्हें महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, देशभक्त, समाजसेवी तथा कुशल प्रशासक बताया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि पं.पंत ने देश को नई दिशा देने के साथ ही कुली बेगारी प्रथा तथा जमींदारी उन्मूलन के लिए निर्णायक संघर्ष कर समाज में व्याप्त इन बुराईयों को मिटाने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि पं.गोविन्द बल्लभ पंत के सिद्धांत हमें सदैव प्रेरणा देते रहेंगे।उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री एवं भारत के गृहमंत्री जैसे महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर उन्होंने देश की सेवा की, उन्होंने भारत के स्वतंत्रता संघर्ष में अहम योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *