गगनहर पर नए पुल बनने के बाद रहेगा रिंग रोड पर जोर, शहर विधायक की कार्य योजना में पहले से ही शामिल है रिंग रोड

 

रुड़की ।    गंगनहर पर दो नए पुल बनने के बाद शहर विधायक प्रदीप बत्रा का पूरा जोर रिंग रोड स्वीकृत कराने पर रहेगा। इंजीनियर भी मानते हैं कि शहर को जाम की समस्या से पूरी तरह मुक्त करने के लिए रिंग रोड जरूरी है। रिंग रोड मात्र शहरी क्षेत्र का ही नहीं बल्कि सटी कालोनियों व गांवों को जोड़कर बनना है। इससे शहर को कई नए मार्ग मिल जाएंगे। कालोनीवासी भी जिला मुख्यालय व राजधानी जाने के लिए शहर के अंदर से होकर जाने के बजाए वह सीधे रिंग रोड से होते हुए आ जा सकेंगे। इससे शहर के अंदर की सड़कों पर वाहनों का बोझ कम हो जाएगा और जाम की समस्या खुद-ब-खुद समाप्त होती चली जाएगी। रिंग रोड शहर के पूर्वी पश्चिमी, उत्तरी व दक्षिणी छोर को टच करते हुए प्रस्तावित है। जिसका आवागमन में सहूलियत ढंडेरा, मोहनपुरा, टोडा कल्याणपुर, जलालपुर इब्राहिमपुर देह,शाहपुर ,रसूलपुर रहीमपुर, पनियाला, पाडली अशोकनगर आदि गांव के लोगों को भी हो सकेगी। अशोक नगर, राजेंद्र नगर ,सुभाष नगर, भंगेड़ी खंजरपुर चौधरी चरण सिंह कॉलोनी, सुनहरा, सलेमपुर मतलबपुर शेरपुर आदि क्षेत्रों में विकसित हुई नई कालोनीवासियों को तो रिंग रोड बनने से और अधिक सहूलियत होगी। इसमें रुड़की के उत्तरी क्षेत्र में सोलानी नदी के दक्षिणी तट को बांध रूपी मार्ग का रूप दिया जाएगा तो पूर्वी पश्चिमी और दक्षिणी दिशा में सीधी सपाट सड़क बनेगी। हालांकि रिंग रोड का प्रस्ताव काफी समय पहले से है जो कि रुड़की शहर विधायक प्रदीप बत्रा की कार्य योजना में शामिल है। अभी तक उनकी कार्य योजना में शामिल दोनों पुलों को स्वीकृति प्रदान हुई है।

जिसमें पीर बाबा कॉलोनी के समीप गंगनहर पर स्टील गार्डर सस्पेंशन ब्रिज और सिविल लाइंस एसबीआई रोड के सामने सैनिक कॉलोनी को जोड़ते हुए कंक्रीट का पुल बनेगा। इन दोनों पुल के बनने से शहर में जाम की समस्या काफी कुछ कम हो जाएगी। इंजीनियर कहते हैं कि इसके बाद जैसे ही रिंग रोड बनेगी तो शहर में जाम की समस्या कतई नहीं रहेगी। बता दे कि निमार्णाधीन दिल्ली हरिद्वार फोरलेन भी एक डेढ़ साल में चालू हो जाएगा। इससे भी रुड़की शहर के मध्य से गुजरने वाले वाहन सीधे फोरलेन से ही हरिद्वार जाएंगे। शहर विधायक प्रदीप बत्रा ने बताया कि रुड़की शहर में और भी कई महत्वपूर्ण कार्य होने हैं। सौंदयींकरण के अलावा नए मार्ग बनने हैं। दोनों पुल का निर्माण होने के बाद रिंग रोड बनवाने का काम शुरू कराया जाएगा । इसके लिए प्रयास अभी से शुरू कर दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *