शासन के रुख के खिलाफ हाईकोर्ट जाने की तैयारी में जिला पंचायत अध्यक्ष, दुकान आवंटन के मामले में दोषी ठहराते हुए मांगा था जवाब, समय से जवाब ना देने पर दी है एक पक्षीय कार्रवाई की चेतावनी

हरिद्वार । जिला पंचायत अध्यक्ष सविता चौधरी शासन के खिलाफ नैनीताल हाईकोर्ट जाने की तैयारी में है। उन्हें पिछले दिनों शासन ने दुकान आवंटन के मामले में जवाब देने के लिए 15 दिन के भीतर जवाब देने के लिए नोटिस जारी किया गया। जिसमें कहा गया है कि यदि समय रहते जवाब नहीं दिया जाता तो एक पक्षीय कार्रवाई की जाएगी। जिला पंचायत अध्यक्ष सविता चौधरी के साथ ही कांग्रेस शासन में जिला पंचायत संचालन को गठित की गई कमेटी को भी ऐसा ही नोटिस जारी किया गया है । जिसमें जिला पंचायत सदस्य विजय पाल कार्रवाई के दायरे में आ रहे हैं। हालांकि शासन जिला पंचायत अध्यक्ष और कांग्रेस शासन की जिला पंचायत संचालन कमेटी के खिलाफ नोटिस का जवाब आने से पहले कोई कार्रवाई करने के मूड में नहीं है ।अलबत्ता, जिला पंचायत अध्यक्ष व कमेटी के सदस्यों को इस बात का आभास है कि शासन उनके खिलाफ क्या करने जा रहा है ।माना जा रहा है कि उस स्थिति को रोकने के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष नोटिस के खिलाफ नैनीताल हाईकोर्ट जाने का मन बना चुकी है । फिलहाल हाईकोर्ट की छुट्टी चल रही है। 2 दिन बाद इस संबंध में याचिका दायर हो जाने की संभावना है। वहीं जानकारी यह भी मिल रही है कि जिन जिला पंचायत सदस्यों के खिलाफ भाजपा नेता एवं सदस्य जिला पंचायत हरिद्वार सुभाष वर्मा व अन्य लोगों के द्वारा शिकायत की गई है ।वह भी अपने बचाव कि रास्ते तलाश रहे हैं। अधिकतर की कोशिश कार्रवाई की आशंका के खिलाफ नैनीताल हाईकोर्ट में याचिका दायर करने की है। हालांकि कविता उर्फ आईशा को इसमें कोई राहत मिलने की संभावना नहीं है। क्योंकि नैनीताल हाईकोर्ट ने ही पिछले वर्ष उन्हें निलंबित करते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए थे ।यह अलग बात है कि जिला पंचायत स्तर से उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई और वह बदस्तूर सक्रिय जिला पंचायत सदस्य के रूप में बोर्ड की कार्यवाही में शामिल होती रही। पंचायत से सभी सुविधाएं प्राप्त करती रही अब उनके खिलाफ एक शिकायत जिलाधिकारी को भी की गई है जिसमें हाईकोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए उनके खिलाफ एफ आई आर कराने की मांग भी की गई है। बहरहाल,जिला पंचायत की सियासत धरातलीय जोड़-तोड़ के साथ ही कानूनी दांवपेच में भी फंसती नजर आ रही है। दोनों के में एक दूसरे को मात देने के लिए कोई मौका गंवाना नहीं चाहते। जिसके चलते हर स्तर की कोशिश हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *