रहमतपुर गांव के राजकीय प्राथमिक विद्यालय के परिसर में नियम विरुद्ध बने चार आंगनबाड़ी केंद्र भवनों को राजस्व विभाग की टीम ने ध्वस्त कराया, हाईकोर्ट के आदेश पर की धवस्तीकरण की कार्रवाई

 

पिरान कलियर ।       रहमतपुर गांव के राजकीय प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में बने चार आंगनबड़ी केंद्रों का विरोध कर ग्रामीणों ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर इन केंद्रों को हटवाने की मांग की थी। हाईकोर्ट के आदेश पर राजस्व विभाग की टीम ने चारों आंगनबाड़ी केंद्रों को जेसीबी मशीन लगाकर ध्वस्त कर दिया। क्षेत्र के रहमतपुर गांव के राजकीय प्राथमिक स्कूल के प्रांगण में रुड़की ब्लाक की ओर से बिना शिक्षा विभाग से अनुमति लिए ही स्कूल की भूमि पर चार आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण कराया गया था। जिसमें एक आंगबाड़ी केंद्र की अनुमानित लागत 7 लाख रुपये है। निर्माण के दौरान ग्रामीणों व स्कूल की अध्यापिकाओं ने विरोध किया था, लेकिन विरोध के बाद भी इन चारों केंद्रों का निर्माण रुड़की ब्लाक की ओर से कर दिया गया था। जिसका विरोध करते हुए गांव के नूरआलम व मनोज गिरी आदि ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। एक जनहित याचिका दायर कर इन केंन्द्रों को स्कूल प्रांगण से हटवाने की मांग की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने इन चारों केंद्रों को ध्वस्त करने के आदेश जिला प्रशासन को दिए थे। जिला प्रशासन की ओर से रुड़की जेएम नीतिका खंडेलवाल ने तहसीलदार रुड़की को इन चारों केंद्रों को तोड़ने के निर्देश दिए थे। तहसीलदार ने राजस्व विभाग की टीम के साथ शुक्रवार को जेसीबी की मदद से इन चारों केंद्रों को ध्वस्त करा दिया है। तहसीलदार मनजीत सिंह गिल ने बताया स्कूल प्रांगण में बने चार केंद्रों का निर्माण किया गया था। जिस पर ग्रामीणों व शिक्षा विभाग की ओर से आपत्ति की गई थी। हाईकोर्ट के आदेश का अनुपालन करते हुए ध्वस्त किया गया है। टीम में कानूनगो मंगेश त्यागी, लेखपाल पवन त्यागी, लेखपाल सुरेंद्र तोमर आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *