चार धाम यात्रा धार्मिक यात्रा है, जिसमें पवित्र धामों के दर्शन किए जाते हैं,चार मुख ऐसे धाम बताए गए हैं जिनके दर्शन करना ही चार धाम यात्रा है, यात्रा पूरी कर रुड़की लौट रहे हैं झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल

 

रुड़की ।   झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल चार धाम यात्रा कर वापस रुड़की लौट रहे हैं । उन्होंने कहा है कि यात्रा शिव ने सुखद एहसास और शांति की प्राप्ति हुई। उन्होंने कहा है कि भगवान शिव को समर्पित केदारनाथ धाम भारत उत्तराखंड राज्य के रुद्र-प्रयाग जिले में में स्थित है। केदारनाथ मंदिर बारह ज्योतिर्लिंगों में सम्मिलित होने के साथ ही चार धामों में से भी एक है। केदारनाथ धाम मंदाकिनी नदी के किनारे पर स्थित है। केदारनाथ धाम का हिंदू धर्म में विशेष स्थान रखता है। हिमालय की सफेद बर्फ से घिरा हुआ यह धाम अधिकतर समय बर्फ की सफेद चादर ओढ़े रहता है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इसका निर्माण पांडव वंश के राजा जन्मेजय ने कराया था। जन्मजेय राजा परीक्षित के बेटे अभिमन्यु के पौत्र थे। कहा जाता है कि कलियुग में आदि शंकराचार्य ने इस मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया। यहां स्थित शिवलिंग सबसे प्राचीन शिवलिंगो में से एक है। इसीलिए भी इस मंदिर का महत्व सबसे अधिक माना जाता है। हर साल लाखों की संख्या में देश और दुनिया से श्रद्धालु बाबा केदारनाथ के दर्शन करने यहां आते हैं। भगवान शिव के भक्त अपने जीवन में इस स्थान के दर्शन अवश्य करना चाहते हैं। केदारनाथ से आगे बढ़ता है बद्रीनाथ धाम। यह भी उत्तराखंड राज्य की सीमाओं में आता है। कहा जाता है कि केदारनाथ के दर्शन किे बिना अगर बद्रीनाथ के दर्शन किए जाएं तो यात्रा न तो पूर्ण मानी जाती है और न ही सफल।

कैसे पहुंचे केदारनाथ

केदारनाथ पहुंचने के लिए सरकार द्वारा यात्रा को सुगम बनाने के लिए कई प्रयास किए गए हैं। आप सड़क, रेल और हवाई मार्ग से केदारनाथ के दर्शन करने के लिए जा सकते हैं। भारत के सभी बड़े शहरों से केदारनाथ जाने के लिए यात्रा सुविधाएं उपलब्ध हैं। दिल्ली, लखनऊ, चंडीगढ़,नागपुर, कानपुर और बैंगलुरु जैसे शहरों से केदारनाथ रेल, सड़क या हवाई मार्ग से जाया जा सकता है। सड़क मार्ग से केदारनाथ जाने के लिए आप हरिद्वार-ऋषिकेश और देहरादून के रास्ते जा सकते हैं। यहां से चाहें तो केदारनाथ के लिए कार या जीप बुक कर सकते हैं और यात्रा को अपनी सुविधा के हिसाब से तय कर सकते हैं। दिल्ली से ऋषिकेश और हरिद्वार के लिए हर आधे घंटे में सीधे बस सर्विस उपलब्ध है। यहां से बस द्वारा हरिद्वार 8 से 9 घंटे में पहुंचा जा सकता है। केदारनाथ के लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन ऋषिकेश और देहरादून है। साथ ही देहरादून का जॉली ग्रांट सबसे नजदीकी एयरपोर्ट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *