हिमाचल के कई इलाकों में भारी हिमपात, बिजली-पानी का बढ़ा संकट, 200 से ज्यादा सड़कें बंद

शिमला । हिमाचल के कई इलाकों में भारी बर्फबारी हुई है। मौसम विभाग की चेतावनी के बीच राज्य के ऊचांई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी का दौर जारी है। शिमला सहित आसपास के इलाकों में मंगलवार सुबह से बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी का दीदार करने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक शिमला सहित अन्य इलाकों का रुख कर रहे हैं। विश्व प्रसिद्ध रोहतांग दर्रे समेत लाहौल, चंबा और किन्नौर के पहाड़ बर्फ से लकदक हो गए हैं। मनाली, डलहौजी, कुफरी में भारी बर्फबारी हुई है। सूबे के निचले इलाकों में बारिश हो रही है। राज्य में अच्छी बर्फबारी से किसानों-बागवानों समेत पर्यटन कारोबारियों के चहरे खिल उठे हैं। बागवानी के लिए ये बर्फबारी संजीवनी मानी जा रही है। वहीं, भारी बर्फबारी के चलते राज्य में नेशनल हाईवे सहित करीब 200 छोटी-बड़ी सड़कें यातायात के लिए बंद हो गई हैं। राजधानी से उपरी शिमला का संपर्क कट गया है। शिमला शहर में भी बर्फबारी से बंद हो गया है। एमसी और प्रशासन की टीमें शहर में बर्फ हटाने के काम में लगी हैं। कई ग्रामीण इलाकों में बिजली-पानी का संकट हो गया है। कई इलाकों में बीते कल से बिजली गायब हो गई है जिसके चलते लोगों ने अंधेरे में रात काटी। राज्य के शिमला, कुल्लू मनाली, चंबा, किन्नौर, मंडी, सिरमौर सहित हिमाचल के कई इलाकों में भारी बर्फबारी से जनजीवन अस्तव्यस्त है। मंगलवार को पर्यटन नगरी खज्जियार में भी हुई ताजा बर्फबारी हुई है। वहीं मंडी के शिकारी देवी, कमरुनाग और शैटाधार में दो फुट तक बर्फबारी की सूचना है। उधर घाट, गाड़ागुशैनी, सोमगाड़, चलोट, बुंग, खौली, कटबानु, लौट, थाचाधार, नलबागी, डीडर, में करीब एक फुट तक ताजा हिमपात की खबर है। मंडी की पराशर झील भी बर्फ से लकदक हो गई है। भरमौर तहसील मुख्यालय में करीब चार इंच के करीब ताजा हिमपात हुआ है। वहीं देर रात से किनौर ,नारकंडा, चौपाल, आनी और रोहड़ू में बर्फबारी के चलते कई गामीण सड़कें बंद हो गई हैं। नारकंडा एनएच-5 सुबह से बंद है।वाहनों को वाया सुन्नी भेजा जा रहा है।मौसम विभाग के अनुसार शिमला में मंगलवार दोपहर तक 14 सेंटीमीटर, कल्पा 1, सेंमी, मनाली 5 सेंमी बर्फबारी दर्ज की गई। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में कुछ इलाकों में 23 जनवरी को भी बारिश और बर्फबारी का दौर जारी रहेगा। शिमला शहर में आज पूरा दिन बर्फबारी का पूर्वानुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *